Search

You may also like

798 Views
मज़हबी लड़की निकली सेक्स की प्यासी- 3
मेड सर्वेंट सेक्स

मज़हबी लड़की निकली सेक्स की प्यासी- 3

मेरी देसी ओरल सेक्स इन हिंदी कहानी के पिछले भाग

angel
0 Views
पड़ोसन भाभी के साथ सेक्स एंड लव-3
मेड सर्वेंट सेक्स

पड़ोसन भाभी के साथ सेक्स एंड लव-3

भाभी की चूत चुदाई कहानी के पिछले भाग पड़ोसन भाभी

0 Views
मेरा प्रथम समलैंगिक सेक्स- 4
मेड सर्वेंट सेक्स

मेरा प्रथम समलैंगिक सेक्स- 4

मेरी सहेली ने मुझे अपने जाल में फांस कर मेरे

clown

नये पड़ोसी लड़के ने मुझे चोद दिया

मेरा नाम पिंकी 💋 है, मैं दिल्ली की रहने वाली हूँ, मैं कॉल सेण्टर में जॉब करती हूँ.
मुझे चुदवाने का बहुत शौक है और मैं फ्री में ही खूब चुदवाती हूँ, मुझे चुदवाने में बहुत मजा आता है. मेरी फिगर है 👙 36-30-38.

आज मैं आपको अपनी नई चुदाई की कहानी बताने जा रही हूँ जो एकदम रियल है और कुछ दिन पहले की है. कैसे नए पड़ोसी से पहली बार चुदी.

मैंने आपको बताया कि मैं दिल्ली की रहने वाली हूँ और सबको तो पता है दिल्ली में कितने लोग किराये पर रहते हैं.

इस स्टोरी को मेरी सेक्सी आवाज में सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें.

मेरे घर के सामने ही एक नई फैमिली रहने आई थी, उनकी फैमिली में एक लड़का, दो लड़की और उनके मम्मी पापा थे. वो लोग नए थे, धीरे धीरे हम लोगों से बात करने लगे और मेरी फैमिली से घुल मिल गए.
उसके बाद मैं उनके घर जाने लगी, वो लोग भी मेरे घर आने लगे और आंटी की दोनों लड़कियां मेरी अच्छी सहेलियां बन गयी. मैं अपने नये पड़ोसियों से खूब बातें करती थी.

उनके फैमिली में एक लड़का अंकित था, दोनों बहनों का भाई, वो हमसे उम्र में बड़ा था, मैं उससे भी कभी कभी बातें करती थी. वो मुझे बहुत लाइन मारता था. मैं समझ गई थी कि वो मेरी चूत चोदना चाहता है.

जब मैं उसके घर जाती थी और उसकी मम्मी मुझे बहुत मानती थी और मुझे हमेशा कुछ न कुछ खाने के लिए देती थी. मैं और अंकित हम दोनों एक अच्छे दोस्त बन गए, दोनों एक दूसरे से काफी बातें करने लगे और हम एक दूसरे के करीब आ गए, अंकित मुझसे अपनी सारी बातें बताता था, मैं भी अंकित से अपनी सारी बातें बताती थी.

एक दिन मैं घर में अकेली थी, अंकित मेरे घर आया, हम दोनों बातें करे लगे. मैंने अंकित को पानी दिया.
अंकित बोला- पिंकी, मैं तुम्हें पसंद करता हूँ.
मैं कुछ नहीं बोली.

अंकित बोला- पिंकी, तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो, मैं तुम्हें पसंद करता हूँ.
तब मैं भी अंकित को बोली- तुम भी बहुत अच्छे हो.
क्योंकि अंकित मेरी हेल्प कर देता था, बाजार से कोई सामान ला देता था.

मैं और अंकित एक दूसरे को देखने लगे, तभी अंकित मेरे पास आया, मुझे बाहों में पकड़ कर मुझे किस करने लगा. मैं अंकित को बोली- क्या कर रहे हो?
तो अंकित बोला- पिंकी मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ, मैं तुम्हें चोदना चाहता हूँ.

मैं कुछ बोली नहीं लेकिन मैं भी अंकित से अपनी चूत की चुदाई करवाने को तैयार थी, मैं भी अंकित का साथ देने लगी और हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे. अंकित का लंड उसकी पैन्ट में खड़ा हो गया था.
मैं अंकित को बोली- चलो बेडरूम में चलते हैं. वहीं पर करेंगे जो करना है.

मैं और अंकित बेडरूम में गए. अंकित मुझे किस करने लगा अपनी बाहों में मुझे लेकर… वो मुझे किस कर रहा था, मैं भी अंकित का साथ दे रही थी.

उसके बाद अंकित ने मेरी सलवार और शर्ट दोनों उतरवा दिये, मैं ब्रा और पेंटी में हो गयी. अंकित मेरी ब्रा खोल कर मेरी मोटी चूची को चूसने लगा, दबाने लगा, मैं भी अंकित का साथ दे रही थी. कुछ देर के बाद उसने मेरी पेंटी निकल दी और मेरी चूत को चाटने लगा. मैं एकदम गर्म हो गयी थी चुदवाने के लिए!

तभी अंकित ने मुझे अपना लंड चूसने के लिए बोला, मैं थोड़े दिखावटी नखरे चोदने के बाद अंकित का लंड चूसने लगी.

उसके बाद अंकित अपने लंड पर एक कंडोम लगाया और अपना लंड मेरी चूत में डाल कर चोदने लगा, मुझे दर्द हो रहा था क्योंकि मेरी चूत थोड़ी टाइट थी, मैं ज्यादा चुदी हुई नहीं थी.
बाद में मुझे भी मजा आने लगा और मैं अंकित का लंड अपनी चूत में लेकर उछल उछल कर सिसकारियां ले ले कर चुदवाने लगी और हम दोनों चुदाई करते करते एक बार झड गए.

मैं अपनी चूत की चुदाई करवा कर बहुत खुश थी क्योंकि मुझे अपनी चूत में लंड लिए बहुत दिन हो गए थे. मैंने अंकित से उस दिन खूब चूत चुदवाई पूरे मजे ले ले कर!
उस दिन हम दोनों ने दो बार चुदाई की, उसके बाद अंकित अपने घर चला गया.

उसके बाद अंकित ने मुझे चोदने के लिए बाजार से बहुत सारे कंडोम लाकर रख लिए थे. उसके बाद मुझे और अंकित को जब भी मौका मिलता था हम दोनों खूब चुदाई करते थे कभी मेरे घर तो कभी अंकित के घर, तो कभी होटल में चुदाई करने जाते थे.
अंकित मुझे खूब चोदता था और मुझे खूब शौपिंग करवाता था.

एक दिन मैं और अंकित गोलमाल देखने गए थे. फिल्म देखने के बाद मैं और अंकित होटल में गए, खाना खाया, उसके बाद अंकित ने होटल में एक रूम बुक किया और हम दोनों ने होटल में भी खूब चुदाई की. अंकित ने मुझे उस दिन होटल में दो बार चोदा और उसके बाद अंकित ने मुझे शौपिंग करवाई.

मैं आप सबको अपनी चुदाई की और भी कहानियाँ बताऊँगी, मुझे चुदवाने में बहुत मजा आता है. मुझे नये नये लंड से अपनी चूत चुदवाने में बहुत मजा आता है.

ये कहानी आपको कैसी लगी, नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

 

Related topics कामुकता, लंड चुसाई, हिंदी सेक्सी स्टोरी, होटल में सेक्स
Next post Previous post

Your Reaction to this Story?

  • LOL

    0

  • Money

    0

  • Cool

    0

  • Fail

    0

  • Cry

    0

  • HORNY

    0

  • BORED

    0

  • HOT

    0

  • Crazy

    0

  • SEXY

    0

You may also Like These Stories

clown
0 Views
अंकल ने मेरी कुंवारी बुर की सील फाड़ दी
मेड सर्वेंट सेक्स

अंकल ने मेरी कुंवारी बुर की सील फाड़ दी

नमस्कार दोस्तो, मैं वैशाली हूँ. मैं एकदम गोरी, स्लिम और

clown
0 Views
दोस्त ने अपनी बहन को चुदवाया-2
मेड सर्वेंट सेक्स

दोस्त ने अपनी बहन को चुदवाया-2

अब तक इस सेक्स स्टोरी के पहले भाग दोस्त ने

clown
0 Views
जिगोलो बनने की शुरूआत
मेड सर्वेंट सेक्स

जिगोलो बनने की शुरूआत

कामुक्ताज डॉट कॉम के सभी पाठक और पाठिकाओं को मेरे